Breaking News

नरकटियागंज- दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज।

 

 संवाददाता। नरकटियागंज 

पश्चिमी चम्पारण के नरकटियागंज अनुमंडल के शिकारपुर थाना क्षेत्र के बुढ़वा चंपापुर गांव में एक विवाहिता को ससुराल वालों के द्वारा प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। बता दें कि मंगलवार को युवती के ससुराल वालों ने युवती के शरीर पर मिट्टी तेल छिड़ककर जान मारने का प्रयास किया है। वहीं इस मामले में युवती के माइके वालों ने शिकारपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी है, साथ ही पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है। 

 शिकारपुर थाना के बुढ़वा चंपापुर गांव में एक विवाहिता के शरीर पर मिट्टी का तेल छिड़ककर जान से मारने का प्रयास किया गया, हालांकि समय रहते विवाहिता के भाई ने उसे बचाकर अस्पताल में भर्ती करा दिया था, जहां चिकित्सकों ने इलाज के बाद उसे खतरे से बाहर बताया है। मामले में विवाहिता रेखा देवी के आवेदन पर शिकारपुर पुलिस ने एफआईआर दर्ज करते हुए आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है। एफआईआर में पति अर्जुन प्रसाद समेत ससुराल के आधा दर्जन लोगों को आरोपित किया गया है। 

दहेज के लिए की विवाहिता को जान से मारने का प्रयास

दरअसल, रेखा देवी के ससुराल वाले उन पर दहेज के लिए लगातार दवाब बना रहे थे, जिसके बाद उन्होंने यह सारी बात अपने मायके वालों को बताई तो विवाहिता का भाई 2 लाख रुपए लेकर अपनी बहन के घर पहुंचा गया। रेखा देवी के भाई ने दो लाख रुपए उसके ससुराल वालों के हाथ में देकर बोला की अभी इतना रुपया ही हो पायें है। इसी बात पर ससुराल वाले आग बबूला हो गए और उसके भाई के सामने ही विवाहिता की पिटाई करते हुए उसके शरीर पर मिट्टी तेल छिड़क दिया।वहीं, आग लगाने के दौरान उसके भाई ने किसी तरह उसकी जान बचाई. घटना में विवाहिता बूरी तरह घायल हो गई थी।

वहीं, एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि दहेज के लिए उसका पति व ससुराल के लोगों ने उसे जान से मारने का प्रयास किया है। रेखा देवी ने बताया है कि उसकी शादी 5 वर्ष पहले अर्जुन प्रसाद से हुई थी और शादी के बाद उसके ससुराल वाले बोलेरो गाड़ी खरीदने के लिए 6 लाख की मांग करने लगे थे, लेकिन उसके द्वारा मना करने पर उसे प्रताड़ित किया जाने लगा। प्रभारी थानाध्यक्ष शाहीद अनवर ने बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।