Breaking News

रक्सौल-शहर के मुख्य सड़क पर गिरा ताड़ का पेड़



ब्यूरो रक्सौल विशाल कुशवाहा 

रक्सौल l बीते मंगलवार की रात की आंधी में शहर के कोइरिया टोला वार्ड नंबर 24 स्थित मुख्य सड़क पर एक जर्जर ताड़ का पेड़ गिर जाने से एक बड़ा हादसा होते होते बचा। संयोगवश उस समय कोई आदमी या वाहन सड़क पर नहीं था।मेन रोड पर स्थित जर्जर ताड़ के पेड़ जनजीवन के लिए खतरनाक बन चुके हैं जिन पर विभाग द्वारा शीघ्र कदम उठाया जाना जरूरी है। इन्हें सुरक्षित तरीके से हटाये जाने के संबंध में डा. स्वयंभू शलभ ने सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया था। डा. शलभ की अपील के आलोक में मुख्यमंत्री कार्यालय ने गत 7 जुलाई को पर्यावरण एवं वन विभाग को पत्र भी भेजा था परंतु विभाग की ओर से तत्काल कार्रवाई नहीं की गई जिसका नतीजा सामने है।
उक्त अपील में डा. शलभ ने उल्लेख किया था कि रक्सौल की मुख्य सड़क के दोनों तरफ कभी दर्जनों ताड़ के पेड़ लगाये गए थे जो नगर की सुंदरता को बढ़ाते थे पर उन पेड़ों का संरक्षण नहीं किया जा सका। सड़क विभाग या वन विभाग ने कभी इनकी सुधि नहीं ली। कालक्रम में कई पेड़ सूखकर ठूंठ हो गए। ये पेड़ बारिश और आंधी में टूटकर सड़क और मकानों पर गिरते रहते हैं। इनके सूखे हुए पत्ते बिजली के तारों पर गिरकर पावर ब्रेकडाउन का कारण बनते हैं। आसपास के मकान में रहनेवालों के आगे हर समय खतरा मंडराता रहता है।इस घटना से पूर्व आईडीबीआई बैंक के समीप ताड़ का पेड़ जड़ से टूट कर हाई वोल्टेज तार पर गिरा था जिससे ट्रांसफॉर्मर समेत बिजली का पोल क्षतिग्रस्त हो गया। नगर परिषद कार्यालय के समीप भी एक ताड़ का पेड़ जड़ से टूटकर मेन रोड पर गिरा था। 
अभी नहर चौक से हजारीमल हाई स्कूल के बीच ऐसे आधा दर्जन से अधिक पेड़ बचे हैं जो पूरी तरह जर्जर हो चुके हैं। कोई बड़ा हादसा न हो इसके लिए इन पेड़ों को सुरक्षित तरीके से हटाया जाना आवश्यक है।
उक्त अपील में संबंधित विभाग द्वारा आवश्यक कार्रवाई शीघ्र किये जाने की मांग की गई थी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।