Breaking News

गंडक में आई भीषण बाढ़ से हजारों एकड़ में लगी फसल नष्ट





पूर्वी चंपारण : गंडक नदी में आई बाढ़ ने किसानों की कमर तोड़ कर रख दी। दियारे के सैकड़ों एकड़ में लगी फसल बाढ़ के पानी से चौपट हो चुकी है। हालांकि बाढ़ की पानी मे कमी हुई है। लोगो की जिंदगी अब पटरी पर लौट रही है। परंतु बाढ़ की इस विभीषिका में क्षेत्र में लगे हजारो एकर गन्ना व धान की फसलें बर्वाद हो चुकी है। 

बता दें कि भवानी पुर में टूटे तटबंध के कारण गंडक के जल ने अपना रौद्र रूप पकड़ लिया था जहा क्षेत्र के सड़को व फसलों को अपनी आगोश में ले तहस नहस कर दिया। कितनो के आशियाने उजड़ गए। अपनी फसल को चौपट होते देख किसान काफी चिंतित हैं। उन्हें अपने मवेशियों के चारे की चिंता अभी से ही सताने लगी है। किसानों ने कितनी आस संजोकर खेती किये थे। खेतो में फसल भी अच्छी थी परंतु एकाएक बाढ़ ने किसानों से उसकी खुशियां छीन ली। फसल नष्ट होने से किसानों के सामने भोजन की समस्या गंभीर हो जायेगी। साथ ही मवेशियों को खाने के लिए चारा नहीं मिल पायेगा। बाढ़ ने किसानों के सभी अरमानों पर पानी फेर दिया। कई किसान मालगुजारी पर खेत लेकर सब्जी की खेती किये थे, जो बाढ़ के चलते फसल नष्ट हो गया। स्थिति को देखते हुए किसान काफी चिंतित नजर आ रहे हैं। किसानों को अपनो से ज्यादा मवेशियों की चिंता सता रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।