Breaking News

प्रवासी मजदूरों के लिए मशरूम उत्पादन का तीन दिवसीय प्रशिक्षण शुरू हुआ



मंगलवार को कृषि विज्ञान केंद्र में प्रवासी मजदूरों को मसरूम उत्पादन का तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया. प्रवासी मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए तथा उन्हें आत्म निर्भर बनाने के लिए प्रशिक्षण शुरू किया गया है. प्रशिक्षण का उद्घाटन अध्यक्ष सह वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ अनुराधा रंजन कुमारी ने किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण भारी संख्या में प्रवासी मजदूर प्रदेशों से अपने गांव आए लोगों को रोजगार मुहैया कराने तथा आत्म निर्भर बनाने के लिए सभी क्षेत्र में उनके कौशल के अनुसार रोजगार सृजित करने के लिए प्रशिक्षण देने का काम शुरू किया गया है.

उन्होंने कहा कि मशरूम की खेती कर किसान कम लागत में अधिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं. इसकी खेती बिना खेत के घर में की जा सकती है. प्रवासी मजदूर इसकी खेती करके अधिक लाभ प्राप्त कर आत्मनिर्भर बन सकते हैं. इसके प्रशिक्षक कृषि वैज्ञानिक डॉ. सुनील मण्डल है. मौके पर वरीय कृषि वैज्ञानिक डॉ. आरके मंडल, डॉ. वरुण कुमार, कृषि अभियंता कृष्ण बहादुर क्षेत्री रहे जबकि प्रशिक्षु मनजीत कुमार, धीरज कुमार, गोलू कुमार, प्रिंस कुमार सिंह, चंद्रभाल उपाध्याय, सत्येंद्र कुमार सिंह, विकास कुमार, जयकिशोर सिंह, शैलेश यादव, मनीष कुमार, संजय सिंह, मनिंदर सिंह आदि ने प्रशिक्षण लिया.

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।