Breaking News

दरियापुर प्रखंड के आधा दर्जन ग्राम पंचायतों में बाढ़ का कहर।

 

# हरना बांध टूटने से गड़खा प्रखंड में फैल रहा है ,पानी 

# फुर्सतपुर व रामपुर बांध ओवर फ्लों, जल रिसाव रोकने का प्रयास 


अमित कुमार/दरियापुर (सारण)

गंडक की गर्जना के साथ मृत्यु का तरल दूत द्रुत गति से तरैया, मशरक  पानापुर समेत आठ प्रखंडों को अतिक्रमण करते हुए दरियापुर प्रखंड के आधा दर्जन से अधिक पंचायत को अपनी आग़ोश में दबोच लिया है । बहरहाल, अब तो शौंच के लिए लोगों में असहजता देखी जा रही है।

बाढ़ ग्रस्त पंचायतों का दौरा कर सब लोग पार्टी के प्रदेश महासचिव्र सह प्रवक्ता सुबोध कुमार सिंह ,अमित कुमार, राणा रणजीत सिंह चौहान ,ने बताया कि अंचल प्रशासन व जिला आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा अबतक राहत व बचाव कार्य नहीं शुरू किए गए हैं । डेरनी मध्य विद्यालय, एपीएससी, पावर सब स्टेशन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र डेरनी जल प्लावित हो चुके हैं ।

बाढ़ की कहर की चपेट में दरियापुर अंचल का ककरहट, बड़का बनेया, मोहम्मदपुर, नाथा छपरा, हरना, बजरहियां, सुतिहार, जितवारपुर, रसूलपुर,मनपुरा,बिसाही,हरना, सहित दर्जनों पंचायत आ चुके हैं । जहां पशुओं के चारे, खाद्यान्न सहित खरीफ धान,मक्का, उड़द, मरूआ,कौनी,पटसन को बाढ़ ने निगल लिया है। इधर दिघवारा-भेल्ली मार्ग के पश्चिमी भाग के लोग आतंकित हैं। फुर्सतपुर व रामपुर में बाढ़ का पानी ओवर फ्लो की स्थिति में है। जल रिसाव को रोकने के प्रयास मंजीत व अनिल सक्रिय देखे जा रहे हैं । यदि उक्त बांध टूट गया तो  दरियापुर का संझा-कोठिया, लोहछा- विश्वम्भरपुर, अचलपुर भगवान, पूर्णाहीह, बली छपरा, बलीटोला, खजौता, सुन्दरपुर सुअरा, मुजौना, कोठिया, भैरोपुर आदि गांवों को अपनी गिरफ्त में ले लेगा। गड़खा प्रखंड के ईंटवां, श्रीराम पुर, ताहिपुर, सलेमपुर, रामपुर, अढूपुर माही नदी के हरना बांध टूटने से जद में आ रहे हैं । मूड़ा स्वीइलिश गेट से चँवरा क्षेत्र में फैलता जा रहा है गंडक का जल।  यदि बाढ़ की तीव्रता बढ़ती रही तो संभव है गड़खा- पैगंबरपुर रोड और रेलवे लाइन के उत्तर के गांवों मूडा,सलहां, कुदरबाधा,परसा, इस्माइल पुर, कदना, कसिना, पिरारी,कुचाय, हेमतपुर, मीरपुर, जुआरा,प्राण राय का टोला टापू बन जाए।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।