HAPPY NEW YEAR 2021

HAPPY NEW YEAR 2021

Breaking News

लॉकडाउन के बीच पटना में साल की बड़ी चोरी, मर्चेंट नेवी के कैप्टन के घर से एक करोड़ की संपत्ति ले उड़े चोर




लॉकडाउन के बीच राजधानी में चोरी की एक और बड़ी वारदात सामने आयी है। यह घटना शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के जयप्रकाशनगर में हुई है। जहां रविवार की रात हांगकांग में कार्यरत मर्चेंट नेवी के कैप्टन राकेश कुमार के मकान से चोर दो लाख रुपये तथा एक करोड़ रुपये के हीरे और सोने के जेवर, एक हजार अमेरिकन डॉलर, भूमि व दुकान के कागजात, गहनों की रसीद चुरा ले गए। अन्य सामान को चोरों ने छुआ तक नहीं। इस मामले में पीड़ित कैप्टन के ससुर एवं पेशे से शिक्षक पवन कुमार ने शास्त्रीनगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। 
कमरे बंद कर हॉल में सो रहे थे परिजन
कैप्टन राकेश कुमार मूलरूप से लखीसराय जिले के बड़हिया इंद्रटोला के रहने वाले हैं। इनके ससुर पवन कुमार जमुई के गिद्धौर में हाईस्कूल के शिक्षक हैं। शिक्षक के मुताबिक, तीन साल पूर्व उनके दामाद ने पटना के जयप्रकाशनगर में तीन मंजिला मकान खरीदा था। इसी मकान में शिक्षक अपनी बेटी व बेटे के साथ रहते हैं। 15 दिन पूर्व ही कैप्टन पटना से हांगकांग गए थे। रविवार की रात करीब 12 बजे तक सभी लोग जगे थे। सोमवारी व्रत पर पूजापाठ करने के लिए बेड पर न सोकर सभी लोग मकान के प्रथम तल पर बने हॉल में फर्श पर सो गए। कमरों का दरवाजा बाहर से बंद था। रात में पास के मकान का छोटा गेट फांदकर चोर बाउंड्री पर चढ़े और बाहर से ही छज्जे पर चढ़ गए। इसके बाद चोरों ने उस कमरे की खिड़की की ग्रिल काट दी, जिसमें लॉकर था।

चाबी लग गई हाथ
लॉकर की चाबी वहीं मेज पर रखी थी। चाबी से लॉकर खोलकर चोर उसमें रखे दो लाख रुपये तथा डिब्बे समेत हीरे व सोने के गहने, जरूरी कागजात तथा एक हजार अमेरिकन डॉलर लेकर भाग गए। भागते समय चोरों ने कमरे का दरवाजे की कुंडी अंदर से बंद कर दी थी। सुबह जब परिजन जागे और कमरे को खोलना चाहा तो वह अंदर से बंद मिला। शक होने पर परिजनों ने किसी तरह दरवाजा खोला तो लॉकर खुला था और अंदर रखी नगदी समेत गहने गायब थे।

छत पर मिले खाली डिब्बे
शिक्षक के मुताबिक, दामाद के मकान से सटे दूसरे मकान को भी उन्होंने खरीदा है, जिसमें मरम्मत का काम चल रहा है। चोरी के बाद चोर निर्माणाधीन मकान की छत पर गए और डिब्बों से गहने निकाल लिए। बाद में गहनों के डिब्बों को छत पर ही छोड़कर चोर भाग गए। शिक्षक का मानना है कि छत पर ही चोरों ने गहनों का बंटवारा किया होगा।

नहीं लगा था सीसीटीवी 
शास्त्रीनगर थाना प्रभारी विमलेंदु कुमार ने बताया कि कैप्टन के मकान में सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा था। पड़ोस के मकान में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

करीब व मजदूरों पर शक
पुलिस का मानना है कि चोरी की इस वारदात में करीबी का हाथ हो सकता है। चोरी करने वाले को कैप्टन के परिवार तथा लॉकर में रखी नकदी व गहनों की बखूबी जानकारी थी। पास के मकान में काम करने वाले मजदूर भी इस घटना में शामिल हो सकते हैं। इस बिन्दु पर भी जांच कर चोरों को गिरफ्तार करने की काशिश की जा रही है।

राजधानी में इस साल की सबसे बड़ी चोरी
कैप्टन के मकान में इस साल की सबसे बड़ी चोरी मानी जा रही है। चोर कैप्टन के मकान से दो लाख नगदी, एक करोड़ के गहने तथा एक हजार अमेरिकन डालर चुरा कर ले गए हैं। सोने व हीरे के चोरी गहनों में अंगूठी, हार, करधनी, काड़ा, ब्रेसलेट, चेन, मांग टीका, झुमका, बाला, कील, कंगन, मटरमाला, सोने का बिस्कुट, सोने का सिक्का शामिल है। दरअसल, राजधानी में मकानों व दुकानों की बात दूर आलीशान फ्लैटों में अक्सर चोरियां होती हैं। दर्जनों बड़ी घटनाओं में पुलिस एक माह पूर्व पांच चोरों को गिरफ्तार कर कुछ बड़ी घटनाओं का खुलासा किया था, जबकि चोरी के दर्जनों मामले का पुलिस अबतक खुलासा नहीं कर सकी है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।