Breaking News

रक्सौल- नप कार्यालय मे बिना रिश्वत के नही होता काम,पैसा लेने का विडियो हुआ वायरल।



 बिहार खबर ब्यूरो रक्सौल विशाल कुशवाहा

रक्सौल। भ्रष्टाचार का पर्याय बने नगर परिषद मे बिना रिश्वत का कोई काम नही होता जन्म या मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाना हो। हर काम रिश्वत से ही होता है।ये सभी अधिकारी भी जानते है मगर जबतक इसकी शिकायत नही होती कदम नही उठाया जाता। इसी क्रम मे एक स्थानी ग्रामीण ने इस भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए रिश्वतखोर कर्मी पर कार्यवाई कराने का साहस किया है। पिड़ित नागरिक ने
नप के सहायक बैजू जायसवाल का वीडीओ रेकार्डिंग कर प्रधान सचिव सहित डीएम, एसडीओ व कार्यपालक पदाधिकारी को पत्र देकर कार्रवाई की मांग किया है।
 नगर परिषद‍् के कार्यशैली पर लगातार सवाल उठ रहा है। इस बीच नगर परिषद‍् कार्यालय से दो वीडीओ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें नगर परिषद‍् कार्यालय सहायक बैजू जायसवाल जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के नाम पर 500 रूपये रिश्वत की मांग कर रहे है। इस मामले में वीडीओ बनाने वाले आवेदक देशबन्धु प्रसाद गुप्ता ने नगर एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव सहित जिलाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी व नप के कार्यपालक पदाधिकारी को आवेदन देकर नप के सहायक बैजू जायसवाल पर कार्रवाई की मांग की है. देशबन्धू ने बताया कि  वे अपना जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के लिए नप कार्यालय में गये थे। जिस दौरान बताया गया कि जन्म प्रमाण पत्र बनवाने का काम बैजू जायसवाल करते है। मेरे द्वारा प्रमाण पत्र बनवाने के लिए सभी साक्ष्य उपलब्ध कराये जाने के बाद उन्होने 1000 रूपये की मांग की। सभी लोगों का हवाला देने के बाद उन्होने कहा कि तुम अपने हो तो 500 रूपयां दे दो, दूसरा कोई होता तो 1000 रूपयां लगता (वीडीओ में बातचीत भोजपूरी भाषा में है)। उन्होने कहा कि मेरे द्वारा पैसा देने से मना करने पर उनके द्वारा अभ्रद भाषा का प्रयोग किया गया और गाली-गलौज भी की गयी। जिसके बाद मैने सभी अधिकारियों को पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। इस पूरे मामले का वीडीओ सोशल मीडिया पर भी उपलब्ध है। यहां बता दे कि नप के सहायक पर इससे पूर्व में भी कई बार रिश्वत लेने का आरोप लगा है। अब देखना होगा कि इस मामले में प्रशासन क्या कार्रवाई करती है। आवेदक ने कड़ी कार्रवाई की मांग की है ताकि इन भ्रष्ट सेवको के कारण सरकार की छवि न खराब हो।इ स संबंध में पूछे जाने पर नप के कार्यपालक पदाधिकारी गौतम आनंद ने बताया कि आवेदन मिला है।तीन रोज मे स्पष्टीकरण मांगी गयी है। संतोषजनक जवाव नही मिलने फर कार्यवाई होगी।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।