Breaking News

बिहार: बाइक और 3 लाख रुपये नहीं मिलने पर पत्नी की गला दबाकर हत्या, टुकड़े-टुकड़े कर जलायी लाश



हैवानियत की ऐसी कहानी जिसे सुनकर लोगों का कलेजा दहल जाएगा। पहले तो गला दबाकर नवविवाहिता की हत्या कर दी। फिर लाश के टुकड़े किये और फिर मिट्टी का तेल छिड़ककर जला दिया। किसी तरह सूचना पाकर मायके के परिजन पहुंचे तो उन्हें अधजले लाश के टुकड़े मिले। परिजन वही टुकड़े लेकर महिला थाना में गुहार लगाने पहुंच गये। ये दिल दहला देने वाली घटना बिहार के नालंदा जिले के तेल्हाड़ा थाना क्षेत्र के बेलदरिया बिगहा गांव की है। ससुराल के परिजन घर में ताला लगाकर फरार हो गये हैं। 
मृतका नीपू बिंद की 22 वर्षीया पत्नी सुषमा देवी थी। उसका मायका हरनौत थाना क्षेत्र के ताड़ापर गांव में हैं। परिजन ने दहेज के लिए बेरहमी से हत्या करने का आरोप लगाकर पति समेत ससुराल के अन्य परिजन के खिलाफ तेल्हाड़ा थाने में प्राथमिकी करायी है। थानाध्यक्ष संदीप कुमार ने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों के हवाले कर दिया गया है।
बाइक और 3 लाख रुपये की करते थे मांग
मृतका के रिश्तेदार हीरा कुमार ने बताया कि एक साले पहले धूमधाम से सुषमा की शादी हुई थी। सुषमा के माता-पिता और भाई सभी दिल्ली में रहकर मेहनत मजदूरी करते हैं। लॉकडाउन के कारण अभी भी वहीं फंसे हैं। यहां टाड़ापर गांव में चाचा-चाची व अन्य रिश्तेदार रहते हैं। शादी के बाद से ही ससुराल के लोग दहेज में बाइक और 3 लाख रुपये की मांग करने लगे। मांग पूरी नहीं हुई तो अक्सर उसके साथ मारपीट की जाने लगी। उसे बराबर प्रताड़ित किया जा रहा था।
जेवर व कपड़े से हुई पहचान
सोमवार की शाम बेलदरिया बिगहा गांव के एक ग्रामीण ने टाड़ापर गांव में फोन कर बताया कि सुषमा की गला दबाकर हत्या कर दी गयी है। आनन फानन में परिजन निजी वाहन से बेलदरिया बिगहा गांव पहुंचे। वहां घर में ताला लगा हुआ था। फोन से संपर्क किया गया तो इलाज के लिए ले जाने की बात कर टालमटोल करने लगे। तभी एक ग्रामीण ने बताया कि गांव के बाहर लाश जलायी गयी है। परिजन वहां पहुंचे तो टुकड़ों में बंटी लाश का अधिकतर हिस्सा जल चुका था। जेवर व कपड़े से लोगों ने मृतका की पहचान की।
पुलिस पर लगाये आरोप
परिजन की सूचना पाकर तेल्हाड़ा थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। परिजन का आरोप है कि पुलिस इस मामले में समझौता कराना चाह रही थी। इससे परिजन नाराज हो गये और लाश को लेकर बिहारशरीफ आने लगे। परिजन का आरोप है कि पुलिस ने परवलपुर तक उनका पीछा किया। परिजन बिहारशरीफ पहुंच गये और महिला थाना में इंसाफ की गुहार लगाने लगे। 

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।