Breaking News

भारत-चीन सीमा पर स्थित पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में शहीद भारतीय सैनिकों को सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र ने दी श्रद्धांजलि



*सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र ने रेत पर उकेरी, गलवान घाटी के भारतीय शहीदों की खूनी संघर्ष का दास्तान, लिख डाली जय हिंद और दी अश्रुपूर्ण श्रंद्धाजलि*

मोतिहारी/पूर्वी चंपारण:भारत-चीन सीमा पर स्थित पूर्वी लद्दाख में स्थित गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों की चीनी सैनिकों से झड़प में शहीद हुए भारत के 20 जवान वीर सपूतों की याद में हताश हुये पूर्वी चंपारण जिले के घोड़ासहन बिजबनी निवासी विश्वविख्यात रेत कलाकार मधुरेन्द्र ने शनिवार को शहीदों की शहादत को सलाम करते उन्हें अपनी कलाकृतियों के जरिये सच्ची श्रंद्धाजलि दी हैं। और दो मिनट का मौन भी धारण करने के बाद सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र ने रेत पर बालू की रेत पर उन सर्वधर्म शहीदों की वीरता का संघर्ष भरी दास्तां दृश्य को बालू पर उकेरते जय हिंद लिखी।

सैंड आर्टिस्ट मधुरेन्द्र ने बताया कि पूरा हिंदुस्तान देश के इन वीर शहीद सपूतों की शहादत की गम में डूबी हुई हैं। पूरे देश में बदला की भावना से लोगों में आक्रोश व्याप्त हैं। चीन की इस नापाक हरकत से पूरे भारत के लोगों में भी काफी नाराजगी और गुस्सा है। इस खूनी संघर्ष में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि देते मधुरेन्द्र ने कहा कि चीन को कठोर सबक सिखानी चाहिए।

बता दें कि बीते कुछ दिनों भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों के बीच खींचतान चल रही है। लेकिन सोमवार- मंगलवार की रात यह संघर्ष खूनी झड़प में बदल गया। और बीते रात गलवान इलाके में दोनों तरफ के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई और भारत के 20 जवान शहीद हो गये।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।