Breaking News

बेतिया:- बरसात को देखते हुए जलनिकासी की समुचित व्यवस्था करने का निदेश।


नगर निकायों के सौदर्यींकरण हेतु तत्परतापूर्वक करें कार्य: जिलाधिकारी।

नगरवासियों को दी जाने वाली सुविधाओं को विकसित करें अधिकारी।


बेतिया। बरसात के मद्देनजर जलनिकासी हेतु जिले के सभी नगर निकायों के बड़े-छोटे नालों,क अंडरग्राउंड नाले, कैचपिट मेनहोल की सफाई युद्धस्तर पर करायी जाय ताकि आमजनों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। दस दिनों के अंदर सभी कच्चे-पक्के नालों की खुदाई एवं उड़ाही हर हाल में सुनिश्चित किया जाय। कच्चा नाला खुदाई स्थल पर आम लोगों की जानकारी हेतु साईन बोर्ड अनिवार्य रूप से अधिष्ठापित किया जाय। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि जिले के सभी कार्यपालक पदाधिकारी पूरी मुस्तैदी के साथ नगर निकायों को विकसित करने की दिशा में प्रयास करें। उन्होंने जिले में जलनिकासी की समस्या गंभीर है। इस हेतु अल्टरनेटिव उपाय किया जाय। जहां जलनिकासी की समस्या गंभीर है अथवा जल की निकासी में समस्याएं हैं वहां बरसात में मशीन के माध्यम से जलनिकासी करने की व्यवस्था की जाय। जलनिकासी कार्य का संबंधित एसडीएम नियमित तौर पर अनुश्रवण एवं निरीक्षण भी करेंगे। जिलाधिकारी आज वीडयो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के सभी नगर निकायों के कार्यपालक पदाधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि आमजनों को बारिश के मौसम में बिल्कुल भी कठिनाईयों का सामना नहीं करना पडे़, इसके लिए सभी समुचित व्यवस्थाएं ससमय हर हाल में सुनिश्चित किया जाय। जिस जगह पर पानी ज्यादा इकट्ठा होता है उसको चिन्हित करते हुए तुरंत जलनिकासी की व्यवस्था की जाय।
जिलाधिकारी ने कहा कि सभी कार्यपालक पदाधिकारी त्वरित गति से नगर निकायों को विकसित करें। इस हेतु माॅड्यूलर शौचालय, काॅम्पलेक्स, शुद्व पेयजल, वाहनों की पार्किंग, टेम्पों/बस/रिक्शा स्टैंड, वेंडिंग जोन आदि की समुचित व्यवस्था करने की दिशा में आवश्यक कार्रवाई करें। साथ ही इलेक्ट्रिक शवदाह गृह हेतु भी प्रस्ताव तैयार करने का निदेश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया है। कचरा निस्तारण हेतु डंपिंग ग्राउंड की व्यवस्था की करने का निदेश दिया गया है।
जिलाधिकारी ने कहा कि नगर निकायों के सौंदर्यीकरण की दिशा में भी तीव्र गति से कार्य करने की आवश्यकता है ताकि नगरवासी इसका लाभ उठा सकें। उन्होंने कहा कि सभी महत्वपूर्ण स्थलों, सड़कों के किनारे आदि अन्य स्थलों पर रेडियम साईनेज की व्यवस्था की जाय ताकि रात्रि में गुजरने वाले लोगों को यह पता चल सके कि यह कौन सा स्थल है।  जिलाधिकारी द्वारा सभी कार्यपालक पदाधिकारियों को डोर टू डोर कचरा संग्रहण का पाॅयलट प्रोजेक्ट शीघ्र ही फंक्शनल कराने का निदेश दिया है।
उन्होंने कहा कि नगर में महत्वपूर्ण स्थलों यथा बस स्टैंड, पार्किंग स्थल आदि जगहों पर सीसीटीवी कैमरों का अधिष्ठापन कराया जाय। सीसीटीवी कैमरे के अधिष्ठापन से कई तरह का लाभ मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि सड़कों आदि के निर्माण हेतु पेवर ब्लाॅक का इस्तेमाल किया जाय। पेवर ब्लाॅक का उत्पादन अब अपने ही जिले में किया जा रहा है। जिलाधिकारी द्वारा भीषण गर्मी को देखते हुए नगर निकायों में आमलोगों के लिए शुद्ध पेयजल, ठंडा पेयजल आदि की व्यवस्था करने का निदेश कार्यपालक पदाधिकारियों को दिया गया है।
सभी कार्यपालक पदाधिकारियों को डोर टू डोर कचरा कलेक्शन हर हाल में सुनिश्चित करने हेतु निदेशित किया गया है। इस हेतु जिस नगर निकाय में डंपिंग ग्राउंड नहीं हैं वहां चिन्हित करते हुए प्रतिवेदित करने का निदेश दिया गया है। साथ ही कचरों के निस्तारण हेतु प्रोसेसिंग प्लांट का प्रस्ताव भी तैयार करने को कहा गया है।
समीक्षा के क्रम में कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, बेतिया, श्री विजय उपाध्याय द्वारा बताया गया कि बेतिया शहर की जलनिकासी हेतु सभी समुचित प्रबंध किये जा रहे हैं। सभी 32 बड़े-छोटे नालोें की साफ-सफाई करा दी गयी है। शहर से सटे झिलिया में जलनिकासी हेतु एक किलोमीटर लंबा कच्चा नाला का निर्माण किया जा रहा है। जलनिकासी हेतु दो ह्यूम पाईप का इस्तेमाल भी किया जायेगा। इस नाले का निर्माण हो जाने के उपरांत शहर का सभी पानी ह्यूम पाईप के माध्यम से अंधरी-चुनरी नदी में जाकर गिर जायेगा। वहीं कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत, चनपटिया द्वारा बताया गया कि नगर क्षेत्र में वेंडिंग जोन हेतु स्थल का चयन कर लिया गया है। इसे शीघ्र ही फंक्शनल करा दिया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।