Breaking News

पीपी तटबंध के जीएच प्रभाग पर विभाग के कार्य पूर्ण होने की घोषणा की रात ही धस गया बोल्डर पिचिंग


बेतिया से घनश्याम की रिपोर्ट

ठोकर व पीपी तटबंध के बचाव के लिए हुआ था बोल्डर पिचिंग

बेतिया।पश्चिमी चंपारण ज़िले के ठकराहा प्रखंड स्थित पीपी तटबंध के जीएच प्रभाग के ठोकर नंबर चार पर हो रहे बचाव कार्य मे बरती जा रही अनियमितता का सबूत गुणवक्ता पूर्ण निर्माण की विभागीय घोषणा कि रात ही बोल्डर पिचिंग के धसने के साथ ही सबके सामने आ गया। इससे यह परिलक्षित होता है कि सिचाई विभाग के कर्मियों की मिली भगत से किस कदर बचाव कार्य मे अनियमितता बरती गई है। बोल्डर पिचिंग के धसने की सूचना पर तटबंध के समीप बसे गांव के लोगों में डर का माहौल है कि अभी बरसात पूर्व ही ऐसी स्थिति है तो बरसात के दौरान नदी में बढ़े जलस्तर के समय क्या होगा। लोगों में यह भी चिंता सताने लगी है कि कही जलस्तर में बृद्धि होने पर बांध ही न टूट जाये। इस सोच में लोगों ने विभाग के उच्चाधिकारियों से हस्तक्षेप कर गुणवक्ता पूर्ण कराने की मांग की है। ग्रामीणों ने बताया कि शनिवार को अधीक्षण अभियंता अशोक कुमार रंजन व बाढ़ प्रमंडल एक के कार्यपालक अभियंता रमेन्द्र कुमार, बाढ़ प्रमंडल दो के कार्यपालक अभियंता हरेंद्र प्रसाद सिंह सहित संवेदक ने मौके पर पहुच कर सब प्वाइंट का निरीक्षण कर कार्य पर संतोष व्यक्त किया था साथ ही कार्य समाप्ति की घोषणा कि थी। उनके जाने के बाद देर रात को ठोकर को बचाने के लिए ठोकर के नोज प्वाइंट के अपस्ट्रीम पर हुए बोल्डर पिचिंग धस गया। धसने के कारण बोल्डर के बीच मे बडे बडे गैप दिखने लगे थे।------बोल्डर धसने की सूचना पर अधीक्षण अभियंता
बोल्डर के धसने की सूचना मिलते ही मौके पर अधीक्षण अभियंता ने पहुच कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया। और अपनी उपस्थिति में मरम्मती कार्य शुरू कराया। अधीक्षण अभियंता ने बताया कि थोडा रेन कट से बोल्डर पिचिंग धस गया था जिसे ठीक करा दिया गया है। वही उनके  देख रेख में कार्य हो रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।