Breaking News

सुविधाओं में कमी को लेकर बिहार में विभिन्न जिलों में बने क्वारंटाइन सेंटरों में लोग कर रहे हंगामा



कोसी, सीमांचल व पूर्वी बिहार के जिलों में बने कई क्वारंटाइन सेंटरों में व्याप्त अव्यवस्था को लेकर आए दिन हंगामा हो रहा है। क्वारंटाइन किए गए लोगों का आरोप है कि सेंटर में शुद्ध पेयजल और शौचालयों की समस्याएं आम बात है। नियमित सफाई तक नहीं हो रही। अब भोजन नहीं देने व उसकी गुणवत्ता को लेकर नाराजगी है।
सोमवार को सहरसा जिले के बिहरा क्वारंटाइन केन्द्र में रह रहे प्रवासियों ने दोरमा-सहरसा मार्ग को जाम कर प्रदर्शन किया। आक्रोशित प्रवासियों का कहना था कि दो बार भोजन दिया जाता है, पर उसकी गुणवत्ता खराब है। सुपौल के नवोदय स्कूल क्वारंटाइन केंद्र पर लोगों ने विरोध जताने के लिए सोशल मीडिया का सहरा लिया। वीडिया बनाकर वायरल कर दिया। जिले के वीरपुर में भी हंगामा हुआ। सोमवार को ही अररिया जिले के रानीगंज कलावती कॉलेज में क्वारंटाइन किए गए प्रवासी मजदूरों ने भोजन नहीं मिलने पर सुबह में दो घंटे सड़क जाम कर दिया। आरोप था कि रविवार रात में भोजन नहीं दिया गया, जबकि वहां के सीओ भोजन नहीं देने के आरोप को निराधार बता रहे हैं।
कटिहार जिले  के बलरामपुर, कदवा, मनसाही, प्राणपुर प्रखंडों में बनाये गए क्वारंटाइन सेंटर में सुविधाएं नहीं मिलने से प्रवासी मजदूरों में आक्रोश है। सेंटर में पहुंचने वाले प्रशासनिक अधिकारियों व स्वास्थ्य टीम को इनका विरोध झेलना पड़ रहा है। अधिकांश सेंटरों में समय पर भोजन और नाश्ता नहीं मिलने की शिकायतें हैं। एमएसटीडी कॉलेज व डिग्री कॉलेज बलरामपुर के केंद्र में  शौचालय की व्यवस्था नहीं रहने से मजदूरों को शौच के लिए पास के खेत में जाना पड़ता है।
बांका जिले के कुछ सेंटरों में अव्यवस्था को लेकर पिछले कुछ दिनों से हंगामा चल रहा है। रविवार की शाम बाराहाट के एक क्वारंटाइन सेंटर में खाना लेने के दौरान मजदूरों के बीच मारपीट हो गई। दो युवक घायल हो गए। इस मामले में पुलिस ने 6 लोगों पर मामला दर्ज कर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। रविवार को ही अमरपुर के डुमरामा में क्वारंटाइन प्रवासी मजदूरों ने भोजन, सफाई समेत अन्य सुविधाएं नहीं मिलने पर सड़क जाम किया था। शौचालय के लिए बाहर जाने पर गांव के लोगों का उन्हें विरोध झेलना पड़ा। इस वजह से भी मजदूर आक्रोशित थे। तीन दिन पूर्व बेलहर प्रखंड के जिलेबिया मोड़ स्थित क्वारंटाइन सेंटर में विषैला सांप निकल गया था। जिलेबिया मोड़ से ही रविवार को क्वारंटाइन 35 लोग भाग गए थे, हालांकि बाद में इन्हें वापस लाया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।