Breaking News

राशन कार्ड से आधार कार्ड लिंक कराने पर मिलेंगी एक हजार रुपए



पनालाल कुमार रिपोर्टर

सारण (गरख़ा) प्रखंड कार्यालय में काम कर रहे कार्यपालक सहायकों को नहीं मिली मास्क सैनिटाइजर भोजन और अतिरिक्त मानदेय
गड़खा।राशन कार्ड और आधार कार्ड को पीओएफ पोर्टल पर ऑनलाइन एंट्री किया जा रहा है। इसको लेकर प्रखंड के सभी कार्यपालक सहायकों  प्रतिनियुक्त किया गया। लेकिन उन्हें कोरोना वायरस से बचाव हेतु कोई भी सुविधा मुहैया नहीं कराया गया। लॉक डाउन में सामान्य प्रशासन विभाग के गाइडलाइन के अनुसार सभी कर्मियों को मास्क , सैनिटाइज और भोजन आदि का प्रबंध प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा को कराना है उपलब्ध कराना है। साथ ही काम राशन कार्ड से संबंधित काम कर ने वाले लोगों को मानदेय के अलावा प्रतिदिन 350 रुपये अतिरिक्त भुगतान भी करना है, परंतु इस आशय प्रखंड प्रशासन द्वारा अभी तक आदेश निर्गत नहीं हुआ है। जिससे कर्मियों में नाराजगी देखी जा रही है।बता दें कि लॉक डाउन में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कार्यालय में 33% कर्मियों की उपस्थिति निश्चित है। परंतु ईस नियम का लाभ केवल स्थाई कर्मियों द्वारा ही उठाया जा रहे हैं। नियोजित कर्मियों से प्रतिदिन काम लिया जा रहा है। कार्यपालक सहायक कर्मेन्द्र प्रसाद, आफताब आलम,शकील अंसारी, रंजन पंडित, मोहम्मद मुख्तार आलम, आदित्य कुमार महतो, पुतुल कुमारी समेत अन्य ने बताया कि राशन कार्ड से आधार कार्ड को लिंक करा देने के बाद सरकार द्वारा लॉक डाउन में मिल रही 1 हजार रुपये सभी लाभुकों को बैंक अकाउंट के माध्यम से मिलने लगेगी इसको लेकर हम लोग सुबह से लेकर देर शाम तक प्रतिदिन कार्य कर रहे हैं परंतु मास के सैनिटाइजर समेत अन्य किसी प्रकार की भी सुविधा उपलब्ध नहीं होने के कारण काफी परेशानी हो रही है।इस संबंध में पूछे जाने पर गड़खा बीडीओ मो मोईनुद्दीन ने कहा कि मास्क सैनिटाइजर समेत अन्य जरूरी सामान कार्यपालक सहायकों को देने के लिए बीएलओ संजय कुमार राम को पहले ही सौंप दी गई थी।यदि नही दिया गया होगा तो करवाई की जाएगी।बीडीओ बताया कि प्रखंड में राशन कार्ड से आधार को लिंक कराने वाले लगभग 9500 राशन कार्ड धारी वंचित थे जिसमें से 8.5 हजार का मेनसिंग करा लिया गया है

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।