Breaking News

सीएम नीतीश ने कहा- ज्यादा खतरे वाले क्षेत्रों के लिए विशेष योजना बनेगी।



बिहार खबर संवाददाता पटना से दीपू कुमार गिरि।

बिहार : जिन इलाकों में कोरोना संक्रमण के ज्यादा खतरे की संभावना है, उनके लिए विशेष योजना बनेगी। इसको लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने का  निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि ऐसे क्षेत्र में लोगों को निरंतर सजग एवं सतर्क रखना होगा। मुख्यमंत्री ने शनिवार को मुख्य सचिव और अन्य संबंधित वरीय पदाधिकारियों के साथ कोरोना संक्रमण से उत्पन्न स्थिति और इसके लिए चलाये जा रहे कार्यों की समीक्षा की। साथ ही कई निर्देश दिए।

कोरोना सुरक्षा में लगे फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रोत्साहित करते रहें
मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा कि कोरोना सुरक्षा में लगे फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रोत्साहित करते रहें। इनकी सुरक्षा पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पीपीई किट्स की कोई कमी न हो। इनकी सभी सुविधाओं का ध्यान रखा जाय। इन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या न हो। यह सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि जिन्हें कोरोना संक्रमण की थोड़ी सी भी आशंका हो, वे तुरंत अपनी जांच कराएं। इसमें प्रो-एक्टिव होकर प्रशासन को सहयोग करें।

डोर टू डोर विस्तृत स्क्र्रींनग कराते रहें
उन्होंने पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि बाहर से आ रहे सभी लोगों की पल्स पोलियो की तर्ज पर डोर टू डोर विस्तृत स्क्र्रींनग उपयुक्त टीम के माध्यम से लगातार कराते रहें और इसका फॉलोअप भी करते रहें। मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिया है कि भीड़भाड़ एवं बाजार वाले क्षेत्रों में साफ-सफाई का पूर्ण ध्यान रखें। इन सभी जगहों पर नियमित रूप से सेनेटाइजेशन का कार्य हो। साथ ही कार्यालयों में भी नियमित साफ-सफाई और सेनेटाइजेशन की व्यवस्था सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा कि लोग मास्क का प्रयोग करें और सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण ध्यान रखें। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि कोरोना संक्रमण से पीड़ित लोग स्वस्थ होकर लगातार घर लौट रहे हैं।  लोग घबरायें नहीं, सजग रहें, सचेत रहें तथा सोशाल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहें।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।