Breaking News

नेपाल से आये मोतिहारी के 9 मजदूर क्वारेंटाइन सेंटर से फरार।



मोतिहारी से संवाददाता दीपू कुमार गिरि की रिपोर्ट

पूर्वी चम्पारण: मधुबनी ।पूरे देश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है. मधुबनी जिले में प्रशासन की लापरवाही से कोरोना का संक्रमण बढ़ सकता है. हरलाखी प्रखंड के कई आइसोलेशन सेंटर पर प्रतिनियुक्त कर्मियों की लापरवाही के कारण दर्जन भर लोग क्वॉरेंटाइन सेंटर से फरार हो गये हैं. ताजा मामला विशौल गांव के क्वॉरेंटाइन सेंटर का है. जहां प्रशासन की लापरवाही के कारण नेपाल से आए 9 मजदूर फरार हो गए. 


बता दें की मोतिहारी जिले के 9 मजदूर नेपाल में फंसे हुए थे. वहां खाने-पीने की दिक्कत होने लगी. इसके बाद विगत 15 अप्रैल को रात के अंधेरे में भारत नेपाल सीमा से बधार के रास्ते अपने गांव के लिए रवाना हो गए. जहां ड्यूटी पर तैनात ग्राम रक्षा दल के सदस्यों ने रानीपट्टी गांव उन्हें पकड़ लिया. जिसके बाद 14 दिनों के लिए आइसोलेशन सेंटर में रखा गया.
बताया जा रहा है कि 14 दिन पूरा होने के बावजूद प्रशासन की ओर से इन्हें नहीं छोड़ा गया. जिसके बाद सभी मजदूर क्वॉरेंटाइन सेंटर से फरार हो गये. इस बाबत हरलाखी बीडीओ अरुणा कुमारी चौधरी ने बताया की आइसोलेशन सेंटर से फरार व्यक्ति समेत ड्यूटी पर तैनात कर्मी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी.

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।