Breaking News

बेतिया: क्वारंटाइन कैम्पों में रह रहे व्यक्तियों का सर्वे कर मनरेगा योजना का लाभ दिलायें: जिलाधिकारी।


बेतिया से घनश्याम की रिपोर्ट

लंबित योजनाओं को शीघ्र पूरा करने का निदेश।

बेतिया।मनरेगा योजना के तहत कराये जा रहे कार्यों में गुणवता के साथ कोई समझौता नहीं किया जायेगा। सभी कार्य पूर्ण पारदर्शी और अच्छे तरीके से करायी जाय ताकि सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना का शत-प्रतिशत लाभुकों को मिल सके। जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि क्वारंटाइन कैम्पों में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों/व्यक्तियों का सर्वे शीघ्रातीशीघ्र पूर्ण किया जाय तथा उनके हुनर के अनुसार उन्हें मनरेगा योजना के तहत लाभ दिलाना सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना के तहत निजी जमीनों पर कलस्टर बनाया जाय ताकि दूसरे व्यक्ति भी इससे प्रेरित होकर लाभान्वित हो सकें। वे 23 मई की देर संध्या समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित मनरेगा पीओ के साथ समीक्षात्मक बैठक को संबोधित कर रहे थे।
जिलाधिकारी ने कहा कि जल-जीवन-हरियाली अंतर्गत सार्वजनिक, निजी खेत पोखर निर्माण कार्य, सार्वजनिक पईन सफाई, तालाब एवं कुआं का सर्वें, आवास आदि विभिन्न कार्यों को ससमय पूर्ण किया जाय। उन्होंने सभी पीओ को लंबित योजनाओं को युद्धस्तर पर कार्य करते हुए शीघ्र पूरा करने का निदेश दिया है।
उन्होंने कहा कि सभी पीओ अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत मनरेगा योजना के तहत बेहतरीन माॅडल तैयार करें। कराये जा रहे कार्यस्थल पर मनरेगा योजना का फ्लेक्सी अधिष्ठापित करने का निदेश भी जिलाधिकारी द्वारा दिया गया।
समीक्षा के क्रम में उप विकास आयुक्त रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह द्वारा बताया गया कि जल-जीवन-हरियाली के तहत एक एकड़ तक के तालाब/पोखर की उड़ाही की जा रही है। अबतक 82 सार्वजनिक तालाब/पोखर की उड़ाही प्रवासी श्रमिकों के माध्यम से करायी जा चुकी है। वहीं निजी जमीन पर अबतक कुल-04 खेत पोखर की सफाई का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि नये प्राक्कलन पर प्रशासनिक स्वीकृत के उपरांत जिले में अबतक 345 आहर/पइनों सफाई कार्य जारी है तथा 37 पोखर/पईन की उड़ाही कार्य पूर्ण कर लिया गया है।
उप विकास आुयक्त ने बताया कि 23 मई तक जिले में 2207 तालाबों एवं 5328 कुंओं का सर्वे पूर्ण कर लिया गया है। इन तालाबों एवं कुओं के जीर्णोद्धार की कार्रवाई की जा रही है। सभी संबंधित अधिकारियों को जल्द से जल्द तालाबों एवं कुंओं का जीर्णोद्धार करने हेतु निदेशित कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि जिले के विभिन्न क्वारंटाइन सेंटरों में रह रहे प्रवासी व्यक्तियों को जाॅब कार्ड उपलब्ध कराया जा रहा है ताकि वे क्वारेंटिन से बाहर आने के बाद अपना जीविकोपार्जन कर सके। बगहा-01 प्रखंड में 108, बैरिया प्रखंड में 262, बेतिया प्रखंड में 17, भितहां प्रखंड में 235, चनपटिया प्रखंड में 287, गौनाहा प्रखंड में 72, लौरिया प्रखंड में 115, मैनाटांड़ प्रखंड में 108, मझौलिया प्रखंड में 425, नरकटियागंज प्रखंड में 131, नौतन प्रखंड में 53, पिपरासी प्रखंड में 27, रामनगर प्रखंड में 65, सिकटा 190 एवं ठकराहां प्रखंड में 195 जाॅब कार्ड का वितरण क्वारंटाइन कैम्प में रहने वालों के बीच कैम्प का आयोजन कर बांटा गया है।
जिलाधिकारी द्वारा कार्य में शिथिलता बरतने के चलते पीओ एवं अन्य अधिकारी से शोकाॅज करने का निदेश दिया गया है। साथ ही इनके वेतन से 5 से 10 प्रतिशत की कटौती करने का भी निदेश दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।