Breaking News

टूटा सब्र का बांध, भूख से तड़पें, रहने का जगह नहीं, घर पहुंचे प्रवासी मजदूर


बेतिया से घनश्याम की रिपोर्ट

बेतिया। महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, केरल, जयपुर आदि जगहों से लौटे मजदूरों ने मैनाटाँड़ परिसर में मंगलवार की शाम जमकर हल्ला बोला। मजदूरों को कहना है कि हम सभी सोमवार की देर रात पहुंचे किसी तरह हम लोगों को रमपुरवा मिडिल स्कूल में रखा गया। रात में भी खाना का कोई व्यवस्था नहीं, सुबह भूख से बिलबिलाते मजदूरों के सब्र का बांध टूट गया और व्यवस्था से गुस्साए लोगों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। एक मजदूर ने बताया कि बसों में लाने के समय सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन नहीं किया गया। एक सीट पर तीन लोगों को बैठा कर लाया गया। रास्ते में खाना नहीं दिया गया। जब यहां आए तो क्वॉरेंटाइन सेंटर में हम लोग को नहीं रखा गया। बताया जा रहा है कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में सीट फुल हो गया। आप लोग कहीं रह जाइए। इस बात को सुनकर मजदूरों ने जमकर बवाल काटा और 300 प्रवासी मजदूर अपने घर वापस चले गए। मजदूरों ने बताया कि हम लोग अपना फर्ज पूरा कर रहे हैं लेकिन प्रशासन साथ नहीं दे रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।