Breaking News

केरला से आए 180 प्रवासी मजदूरों ने जमकर काटा बवाल






मैनाटाँड़ से संवाददाता अमित सागर की रिपोर्ट

प० चम्पारण, मैनाटाँड़। केरला, गुजरात एवं मुंबई से आए 180 प्रवासी मजदूरों ने ब्लॉक परिसर मैं ट्रांजिट क्वॉरेंटाइन सेंटर पर अव्यवस्था से नाराज प्रवासी मजदूरों ने शुक्रवार को जमकर हंगामा किया। प्रवासी मजदूरों सेंटर में किसी प्रकार की सुविधा नहीं होने का आरोप लगाया। हंगामा की खबर मिलते ही आनन-फानन में सीओ और बीडीओ के साथ कई अधिकारी भी पहुंचे और मजदूरों को समझा कर किसी तरह शांत कराया। इस दौरान अव्यवस्थित ढंग से भोजन नहीं मिला। गुरुवार की देर रात दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर मैनाटाँड़ पहुंचे थे उन्हें मैनाटाँड़ हाई स्कूल क्विंटन सेंटर में ठहराया गया था। लेकिन खाने-पीने व सोने को लेकर कई प्रकार की समस्याएं थी। शुक्रवार दोपहर तक खाने पीने के लिए कुछ नहीं मिलने पर मजदूरों का धैर्य जवाब दिया और वह हंगामा करने लगे। मजदूरों का आरोप है कि न पानी और ना ही भोजन कोई भी व्यवस्था नहीं की गई है। हंगामा कर रहे प्रवासी मजदूरों ने बताया कि गुरुवार की देर रात किसी भी तरह विद्यालय में ठहरे हैं, लेकिन शुक्रवार की दोपहर तक भोजन नहीं दिया गया। सुबह कुछ कर्मी उपस्थित थे वह भी कोई सही जानकारी नहीं दे पा रहे थे। मजदूरों ने बताया कि कमरे में सोने के लिए भी समुचित व्यवस्था नहीं है एक कमरे में कई लोग को को ठहराया गया है। शारीरिक दूरी के नियमों का धज्जियां उड़ रही थी। एक छोटे से कमरे में कई लोगों को रात गुजारनी पड़ी सुबह में ना पीने के लिए पानी नहीं मिला और ना ही खाने के लिए खाना। मजदूरों ने बताया कि साफ-सफाई की व्यवस्था नहीं है शौचालय गंदा है इस स्थिति में रहे तो निश्चित ही बीमार पड़ जाएंगे। तंग आकर हम लोगों ने ब्लॉक परिसर में आए। सीओ अनिल भूषण ने त्वरित गाड़ी मंगवा कर प्रवासी मजदूरों को उनके पंचायत अवस्थित में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर में शिफ्ट करवाया गया।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।