Breaking News

lockdown में बाहर जा रहे पति को रोकने के लिए खुद को लगा ली आग, मां की चीख सुन दो साल का मासूम भी लिपट गया



जमशेदपुर: कोरोनो वायरस के फैल संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। लोगों को घर से बाहर निकलने पर मनाही है। इसके बाद भी लोग घर से निकलने की कोशिश करते रहते हैं। इस कारण घर में विवाद भी हो जा रहा है। कुछ ऐसा ही हुआ झारखंड के घाटशिला के युक्तिडीह गांव में। यहां महिला ने अपनी पति को घर से बाहर निकलने से रोकने पर झगड़ा कर लिया। बाद में खुद को आग लगा ली। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 

जानकारी के मुताबिक गांव के सुनील सिंह की पत्नी सुमित्रा सिंह ने शनिवार सुबह उनसे लॉकडाउन में घर से बाहर निकलने को लेकर झगड़ा कर लिया और बाद में खुद को आग लगा ली। मां के चिल्लाने पर दो वर्ष का मासूम उससे लिपटने के क्रम में जल गया। चीख सुनकर दूसरे कमरे में मौजूद पति सुनील और सास सुबोदनी सिंह वहां पहुंचे और किसी तरह आग को बुझाया। इस घटना में पति, सास समेत दो वर्षीय बच्चा भी मामूली रूप से झुलस गए।

सभी घायलों को आसपास के लोगों की मदद से घाटशिला अनुमंडल अस्पताल ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर सुमित्रा, उसके पति और सास को एमजीएम अस्पताल भेज दिया गया। जबकि बच्चे का इलाज घाटशिला में ही चल रहा है। सुमित्रा की एमजीएम में इलाज के क्रम में मौत हो गई। घटना की जानकारी देते हुए पति सुनील सिंह ने बताया कि उनका मिट्टी का घर क्षतिग्रस्त हो गया था। उसकी मरम्मत के लिए वे साथियों के साथ गांव में मिट्टी लाने जा रहा था। पत्नी ने जाने से रोक दिया। इसको लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। इसके बाद पत्नी ने आग लगा ली।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।