Breaking News

कोरोना लॉकडाउन में घर से निकले बिहार मीडिया प्रभारी और भाजपा नेता को पुलिस ने जमकर पीटा



पटना: सड़क पर देखते ही पुलिस ने पहले तो पूछताछ की और जैसे ही पता चला कि भाजपा नेता है तो पिटाई कर दी। घटना रविवार की सुबह आर ब्लॉक की है और पुलिसिया ज्यादती के शिकार हुए प्रदेश मीडिया प्रभारी राकेश कुमार सिंह।

राकेश सिंह ने कहा कि रविवार की सुबह वे आटा लाने को घर से निकले। पुलिस ने आर ब्लॉक पर देखा तो रुककर पूछताछ शुरू की। सब सामान्य था लेकिन जैसे ही भाजपा का नेता बताया तो पिटाई शुरू कर दी। राकेश ने आरोप लगाया कि कोतवाली का दारोगा और जिप्सी पर बैठे जवानों ने ताबड़तोड़ लाठियां चलाई जिससे उनके अंगूठे, पैर और कमर में काफी चोटें आई है।
घटना की भाजपा नेताओं ने निंदा की है। संगठन महामंत्री नागेंद्र ने राकेश सिंह से बात कर घटनाक्रम की पूरी जानकारी ली। इस बाबत उन्होंने सरकार तक पूरे मामले की जानकारी देने का भरोसा दिया। प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल और निखिल आनंद, कार्यालय मंत्री सत्यपाल नरोत्तम, मीडिया प्रभारी अशोक भट्ट के अलावा पंकज सिंह और राजीव रंजन ने इस घटना की निंदा की।

नेताओं ने कहा कि भाजपा के मीडिया प्रभारी राकेश सिंह के साथ कोतवाली पुलिस द्वारा मारपीट तथा अभद्र भाषा का प्रयोग करना काफी दुखद है। डीजीपी से मांग किया कि ऐसे पुलिस वालों पर सख्त करवाई होनी चाहिये।

राकेश सिंह एक सरल स्वभाव के व्यक्ति हैं। कोतवाली पुलिस ने जो अमानवीय व्यवहार उनके साथ किया है वह घोर निंदनीय है। प्रशासन ने ही यह नियम बनाया है कि सुबह 6:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक खाद्य पदार्थ की दुकानें खुली रहेगी और आप आवश्यकता के अनुसार पदार्थों को खरीद सकते हैं तो फिर किस कानून के तहत पुलिस ने पिटाई की।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।