Breaking News

कोरोना के कहर के बीच राहत! आंगनबाड़ी के बच्चों को मिलेगा 200 ग्राम दूध पाउडर


आंगनबाड़ी केंद्रों के सभी बच्चों को 200 ग्राम का दूध पाउडर दिया जाएगा, ताकि पाउडर से दूध बनाकर बच्चे उसका सेवन कर सकें। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इतनी मात्रा के पाउडर से बच्चे 11 दिन दूध पी सकेंगे। फिलहाल एक महीने के लिए यह दूध पाउडर दिया जा रहा है। गौरतलब हो कि राज्य में एक लाख से पांच हजार आंगनबाड़ी केंद्र संचालित हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि राज्य के 95 लाख राशन कार्डधारियों के खाते में एक-एक हजार भेज दिये गए हैं। शेष के खातों में भी राशि भेजी जा रही है। वहीं, राशनकार्ड के लिए लंबित तथा अस्वीकृत आवेदनों की पुन: समीक्षा कर नौ लाख को स्वीकृत कर लिया गया है। शीघ्र ही इन्हें भी राशि भेज दी जाएगी। वहीं हाशिए पर के वैसे परिवार जिनके पास राशनकार्ड नहीं हैं, उनका सर्वे जीविका दीदियों द्वारा शुरू कर दिया गया है।  इन्हें भी एक-एक हजार दिये जाएंगे।

 गौरतलब हो कि लॉकडाउन को देखते हुए इन्हें यह राशि देने का निर्णय मुख्यमंत्री ने लिया है। स्कूलों में बने क्वारंटाइन कैंपों की संख्या अब 1250 रह गई है, जहां पर 10856 लोग रह रहे हैं। एडीजी मुख्यालय जितेंद्र कुमार ने बताया कि दरभंगा के भालपट्टी आशा कार्यकर्ता और आंगनबाड़ी सेविका के साथ हुए दुर्व्यवहार मामले में आरोपित की गिरफ्तारी की गई है।
12 शहरों में चल रहे कैंप
बिहार फाउंडेशन की ओर से 12 शहरों में राहत कैंप चलाकर श्रमिकों को भोजन व राशन पैकेट मुहैया कराया जा रहा है। दूसरे राज्यों में फंसे बिहार के श्रमिकों के 15 लाख से अधिक आवेदन आए हैं, जिनमें 10 लाख की स्वीकृति दे दी गई है। इन्हें भी एक-एक हजार दिये जा रहे हैं।

घरों में हुआ सर्वे
स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार ने कहा कि पल्स पोलियो की तर्ज पर चल रहे विशेष अभियान में 4.22 लाख घरों में सर्वे करा लिया गया है। इसमें 293 लोगों में कोरोना संक्रमण के लक्षण मिले हैं, जिनके सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।