Breaking News

लॉकडाउन के बाद अपराध रोकने की तैयारी में जुटी बिहार पुलिस, सभी जिलों के एसपी को किया गया सतर्क



कोरोना के चलते लॉकडाउन से आपराधिक घटनाओं में कमी आई है। पुलिस के लिए यह राहत भरी है, लेकिन लॉकडाउन खत्म होने के बाद आपराधिक घटनाओं में कहीं बेतहाशा वृद्धि न हो, इसकी भी चिंता उसे सताने लगी है। पुलिस मुख्यालय अभी से इसकी तैयारी में जुट गया है, ताकि लॉकडाउन की समाप्ति के बाद अचानक अपराध को बढ़ने से रोका जा सके। जिलों के एसपी को इसके लिए अभी से काम करने के आदेश दिये गए हैं।

कोरोना ने देश-विदेश में कहर बरपा रखा है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन है। इसके चलते अपराध की घटनाओं में काफी कमी आई है। लॉकडाउन के समाप्त होने के बाद लोग फिर से रोजमर्रा की तरह अपने काम में जुट जाएंगे। किसी के आने-जाने पर रोक नहीं होगी। ऐसे में अपराधी फिर से सक्रिय होने की पूरी कोशिश करेंगे। लॉकडाउन की समाप्ति के तुरंत बाद अपराध को कैसे रोका जाए, इसको लेकर पुलिस मुख्यालय ने काम शुरू कर दिया है।
एसपी को प्लान तैयार करने के आदेश
पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के एसएसपी और एसपी को लॉकडाउन के खत्म होने के बाद अपराध की रोकथाम के लिए प्लान तैयार करने का आदेश दिया है। एसपी अपने इलाके के हिसाब से इसकी तैयारी करेंगे। लॉकडाउन के बाद अचानक अपराध नहीं बढ़े, इसके लिए उन्हें तैयार रहने को कहा गया है। पुलिस मुख्यालय ने अपने आदेश में लॉकडाउन के बाद अपराध नियंत्रण की दृष्टिकोण से अपना प्लान अभी से बना लें, ताकि अचानक आपराधिक गतिविधियों में बढ़ोतरी की आशंका को रोका जा सके।

रुटीन कार्य भी शुरू कर दिया गया है
पुलिस मुख्यालय ने लॉकडाउन की वजह से प्रभावित पुलिस के रुटीन कार्यों को भी धीरे-धीरे शुरू करने के आदेश दिये हैं। इसके तहत जिलास्तर पर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए दो से तीन टीम का गठन करना, केस डायरी और सुपरविजन के काम का को निपटाने के आदेश भी शामिल हैं। हालांकि इस दौरान पुलिस को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सख्त हिदायत दी गई है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।