Breaking News

कोरोना लॉकडाउन पलायन: 3 मजदूरों ने मिलकर उत्तर प्रदेश में 800 रुपये में खरीदी पुरानी साइकिल और चल दिए बिहार



दिन शुक्रवार। समय करीब 11 बजे। छपरा-मुजफ्फरपुर एनएच 722 पर स्थित मोलनापुर पूर्णेश्वर नाथ मंदिर। यूपी के गाजीपुर से एक ही पुरानी साइकिल पर सवार होकर तीन मजदूर मंदिर के समीप रुकते हैं। तीनों मजदूर गाजीपुर से मुजफ्फरपुर के लिए चले थे, जो चौथे दिन भेल्दी के मोलनापुर पहुंचे हुए थे।
मुजफ्फरपुर जिले के कुढ़नी थाने के चढ़ुआ तुर्की निवासी संतोष कुमार, जय कुमार, विवेक कुमार ने बताया कि तीनों यूपी के गाजीपुर में सड़क के निर्माण कार्य में मजदूरी करते थे। कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन होने के बाद निर्माण कार्य बंद होने से उनके समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई।काम बंद होने के बाद तीनों बैठकर कमाए हुए रुपये से खाना खाए। समाप्ति के कगार पर जब रुपये पहुंचे तो तीनों ने गांव जाने को ठानी, मगर लॉकडाउन में वाहनों का परिचालन बंद होने से अब वे अपने घर पहुंचते कैसे?
तीनों ने रुपये मिलाकर 800 रुपये में खरीदी पुरानी साइकिल 
मजदूर संतोष, जयकुमार व विवेक ने बताया कि तीनों आपस में आठ सौ रुपये मिलाकर गाजीपुर के ही रामलाल से साइकिल खरीदी और उसी पुरानी साइकिल पर तीन बड़े बैग को लादकर तीनों सवार होकर 21 अप्रैल की सुबह गाजीपुर से मजफ्फरपुर को चल दिए। पूरी तरह थके-मादे तीनों मजदूरों ने कहा कि अब घर पर ही मजदूरी कर लेगें मगर,कमाने के लिए बाहर नहीं जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।