Breaking News

एसकेएमसीएच को मिली आईसीएमआर से कोरोना जांच की अनुमतिः मंगल पांडेय



मुज़फ्फरपुर: स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि एसकेएमसीएच, मुजफ्फरपुर को भी आईसीएमआर से कोरोना की जांच की अनुमति मिल गई है। शीघ्र ही ही वहां सैंपल जांच की प्रकिया शुरू हो जाएगी। साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से बचने के लिए सूबे में सोशल डिस्टेंसिंग का फार्मूला तेजी से काम कर रहा है। अभी तक 64 कोरोना पाॅजिटिव मरीजों में से 23 लोग कोरोना पर विजय प्राप्त कर पूरी तरह स्वस्थ हुए हैं। ऐसे भी मरीज हैं, जिनकी स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। आज गया में भी एक मरीज ने कोरोना को मात दी है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का ही परिणाम है कि सबसे अधिक घनत्व वाले राज्य में जहां पाॅजिटिव मरीजों की संख्या कम हैं। राष्ट्रीय स्तर पर भी जहां कोरोना के केस 4 दिनों में दोगुना होते थे, वहीं अब 6 दिनों में इतने मामले आ रहे हैं। श्री पांडेय ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार साथ-साथ मिलकर कोरोना महामारी को जड़ से उखाड़ फेंकने की दिशा में हरसंभव प्रयास कर रही है। इसलिए आमलोगों से भी यह अपील है कि वे केंद्र और राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करें, ताकि अदृश्य और लाइलाज खतरनाक कोरोना वायरस बिहार में अपने पांव नहीं पसार सके।
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शनिवार को जहां एनएमसीएच, पटना में चार मरीजों ने कोरोना को मात दी है, वहीं रविवार को एएनएमसीएच, गया के एक कोरोना पाॅजिटिव की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसी प्रकार जेएलएनएमसीएच, भागलपुर में भर्ती एक कोरोना पाॅजिटिव मरीज की स्थिति में सुधार हो रहा है और उम्मीद है कि जल्द ही वे भी स्वस्थ होकर घर जाएंगे। इसलिए ऐसे कोरोना संदिग्ध मरीज, जिन्हें सर्दी, खांसी और बुखार आती हो, वे अपनी जांच अवश्य करवायें और दूसरों को भी प्रेरित कर खुद को घर में क्वरांटाइन करें, ताकि कोरोना पर काबू पाने में सरकार सफल हो सके।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।