Breaking News

दरियापुर: सारण के लाल ने बैंगलोर में किया कमाल





सारण से पन्नालाल कुमार के साथ दरियापुर से गजेंद्र कुमार की रिपोर्ट

दरियापुर।प्रखण्ड क्षेत्र के विश्वम्भरपुर निवासी एक युवा अधिवक्ता ने बैंगलोर में भी सारण का नाम रौशन करने के साथ ही जरूरतमंदों की दुआएं भी एकत्रित कर रहा है।आप को बता दे कि विश्वम्भरपुर निवासी शिक्षक नेता कमलेश कुमार व अर्चना कुमारी का युवा अधिवक्ता पुत्र शुभम प्रियदर्शी बैंगलोर में ही वकालत की पेशा से जुड़ा हुआ है।जहाँ पर वह लॉक डाउन के दौरान अपने मित्रों के साथ प्रतिदिन सैकड़ो बिहारी मजदूरों को खाना का पैकेट पहुंचा रहा है।इस सम्बंध में फोन पर बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि मुझे कई माध्यमो से सूचना मिली कि लॉक डाउन के दौरान बिहार के मजदूर को खाने -पीने के लीए भटकने की नौबत आ गयी है।जिसके बाद मैंने अपने अन्य बिहारी मित्रों समीर, आर्य, शौरभ, उत्कर्ष,तथागत व शाकेत के साथ मिलकर उन मजदूरों की मदद करने की योजना बनाई।जिसके बाद शहर के अलग-अलग हिस्सों में रहने वाले बिहारी मजदूरों के घर-घर जाकर खाना का पैकेट व मास्क, साबुन, सेनेटाइजर व कई अन्य जरूरत की समानों का पैकेट वितरित किया जाने लगा।उन्होंने बताया कि लगभग 2 हजार घरों तक सहायता पहुंच चुकी है।इसके बाद भी प्रतिदिन वितरण कार्य चलता रहेगा।विदित हो कि यह समाज सेवा की भावना युवा अधिवक्ता को विरासत में ही मिली है।उनके पिता भी सामाजिक गतिविधि में लंबे समय से सक्रिय है।वही जिस उम्र में युवा अपनी जरूरतों को पूरी करने में ही लगे रहते है,वही इनके द्वारा जरूरतमंदों की जरूरतों को पूरी करते देखने वाला हर कोई दुआएं देने से नही चुकता है।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।