HAPPY NEW YEAR 2021

HAPPY NEW YEAR 2021

Breaking News

मोबाइल खोल रहा कोरोना का राज, देश के हॉटस्पॉट वाले इलाकों से दो हजार लोग छुपकर पहुंचे बिहार




बिहार: देश के हॉटस्पॉट शहरों से कई लोग छुपकर बिहार आ गए हैं। इसका खुलासा तब हुआ, जब मोबाइल कंपनियों ने अपनी रिपोर्ट बिहार सरकार को दी। टावर लोकेशन बदलते ही संदिग्ध ट्रेस हो गए हैं। बिहार आए ऐसे 1892 लोगों की सूची स्वास्थ्य विभाग के पास है। प्रशासन एक-एक लोगों की तलाश में जुटा है। 

सूचनाएं लीक न हो और बाहर से आए लोगों को समय रहते ट्रेस कर क्वारंटाइन किया जाए, इसके लिए टीम खुफिया तौर पर काम कर रही है। सटीक जानकारी मिलते ही पुलिस के साथ छापेमारी कर स्वास्थ्य विभाग ऐसे लोगों को क्वारंटाइन सेंटर भेज रहे हैं। बुधवार को पटना में ऐसे ही दो लोगों को पकड़ा गया। इसमें एक महाराष्ट्र के दादर और दूसरा नोएडा से आया है। स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि सूचना मिलते ही दोनों परिवारों को क्वारंटाइन कर नमूना जांच के लिए भेजा गया है। प्रदेश के अन्य जिलों में भी इसी तरह लोगों को ट्रेस किया जा रहा है।
शहर बदलते ही ऐसे पकड़ में आए लोग : लॉक डाउन का उद्देश्य ही लोगों को संबंधित शहर में लॉक कर देना था। शहर ही नहीं प्रदेश की सीमाएं भी सील कर दी गईं। इसके बाद भी चकमा देकर अधिक संख्या में लोग देश के हॉट स्पॉट शहर से बाहर निकल गए। दिल्ली में जामातियों का मामला उजागर होने के बाद सरकार गंभीर हुई और सख्ती बढ़ाई गई। इसी क्रम में गोपनीय तरीके से लोगों की पड़ताल शुरू हुई, जिसमें मोबाइल कंपनियों की मदद ली गई। स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि देश के संवेदनशील शहरों पर पैनी नजर रखी गई और हॉट स्पॉट एरिया से कोई अन्य प्रदेश में नहीं जाए इसे लेकर मोबाइल कंपनियों से सहयोग मांगा गया था। लॉक डाउन के बाद हॉट स्पॉट शहरों से जिन लोगों का मोबाइल लोकेशन प्रदेश से बाहर मिला उनकी जानकारी जुटाई गई।

इन हॉट स्पॉट इलाकों से बिहार आए लोग
जो सूची बिहार सरकार को मिली है, उसमें देश के कई हॉट स्पॉट इलाके हैं। इसमें दिल्ली का निजामुद्दीन मरकज का इलाका, गुजरात का सूरत, अहमदाबाद, बड़ोदरा, राजस्थान का जोधपुर, जयपुर, यूपी का गौतम बुद्ध नगर, महाराष्ट्र का थाणे, पुणे, हरियाणा का गुरुग्राम व पश्चिम बंगाल का कोलकाता शहर शामिल है। स्वास्थ्य विभाग अपने स्तर से जानकारी जुटाने में लगा है।

जांच में मिला था न्यू पाटलिपुत्रा का संक्रमित
मोबाइल कंपनियों की मदद से मिली सूची में पटना के 126 लोग शामिल हैं। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने सूची के आधार पर सत्यापन करना शुरू किया तो न्यू पाटलिपुत्रा के एक युवक की जानकारी मिली। एक महीने पहले इसकी लोकेशन दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में थी। जब उसकी जांच करवाई गई तो वह पॉजिटिव निकला। इसके बाद हॉट स्पॉट से आए लोगों की पड़ताल तेज कर दी गई

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।