Breaking News

कोरोना वायरस से बचाव ही इलाज है:- शकिलूर रहमान





 सिवान से पुनीत कुमार मौर्य की रिपोर्ट

सिवान:- जिला के एम एम कलोनी में रहने वाले शकिलूर रहमान जो अभी कोरोना से संबंधित मरीज के सेवा में अपनी जान की परवाह किये बिना छपरा सदर अस्पताल के आईशूलेशन वार्ड में नर्सिंग ऑफिसर के रूप में अपनी सेवा दिन रात दे रहे।  उन्होंने हमसे बात करते हुवे बताया कि अभी भी देश कोरोना वायरस की समस्या से जूझ रहा है और इसका अभी तक कोई सफल इलाज या दवा नही बन पाई है! जबकि सभी देश शोध पर लगे हुए हैं! उन्होंने बताया की इसका सबसे बड़ा इलाज यही है कि लोगो अपने को बचाकर रहे, समाजिक दूरी बनाकर रहे, घर में रहे तथा स्वछ रहे।  बचाव ही इसका सबसे बड़ा इलाज है।  श्री रहमान ने ये भी बताया कि अभी भी कुछ लोग देश में लगाए गए लॉक डाउन का पालन नही कर रहे हैं और अभी भी बहुत से लोगो में जागरूकता की कमी है, जिसके वजह से कोई इस बीमारी का उपचार धर्म से जोड़कर बता रहा तो कोई साइंटिफिक तरीका बता रहा है।  लेकिन श्री रहमान ने लोगो से अपील किया कि आप अफवाहों से बचकर रहे और अगर आपको सर्दी खाँसी बुखार होता है तो घबराए नही बल्कि अपने नजदीकी या सरकारी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर जांच करवाएं।  और पहली बार मे ही यह ना सोचे कि मुझे कोरोना हो गया है..! उन्होंने अपील किया कि सभी लोग अपने को स्वछ रखें भोजन में पोष्टिक और पोषक तत्वों का सेवन करें जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके और जितना ज्यादा हो सके इस रोग से बचने के लिए अपने घरों में रहे! बहुत जरूरत होने पर ही घरों से बाहर निकलें! श्री रहमान ने एक तस्वीर के माध्यम से सन्देश भी दिया कि
हम आपके लिए यहाँ अस्पताल में है।आप हमारे लिए घर पर रहे

अंत मे उन्होंने देशवासियों से लॉक डाउन का समर्थन करने की अपील की साथ ही साथ प्राथना करने की अपील की।

कोई टिप्पणी नहीं

बिहार खबर वेबसाइट पर कॉमेंट करने के लिए धन्यवाद।